पद्मावती के बाद अब ‘द गेम ऑफ अयोध्या’ फिल्म का हो रहा है विरोध

New Movie “the game of ayodhya” 
ये तो आप सभी जानते ही हैं की संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती विवादों के चक्रव्यू में ऐसे फंसी की फिर निकल ही नहीं पायी,विरोध इतना जबरदस्त हो गया की फिल्म की रिलीस रोकनी पड़ गयी ,और अब इस फिल्म का क्या होगा अभी तक कोई नहीं कह सका ,ऐसे ही एक नयी फिल्म विरोध के घेरे में आ गयी है , ‘द गेम ऑफ अयोध्या’ भी अब विरोधास्पद स्थिति पर पहुंच चुकी है ,अयोध्या के संतो ने इसके खिलाफ विरोध का बिगुल फूंक दिया है ,इस फिल्म को लेकर संतो का कहना है,

की इस फिल्म को रोका जाये नहीं तो वे सड़कों पर उतर आएंगे ,और इसका पुरजोर विरोध प्रदर्शन करेंगे ,यहाँ तक की संतो ने पुरे देश में आंदोलन की धमकी दे दी है ,जानकारी के अनुसार यह फिल्म 8 दिसम्बर को रिलीज़ होने वाली थी ,लेकिन संतो का आरोप है की इस फिल्म में हिंदुओं को छल से भगवान राम की मूर्ति स्थापित करते दिखाया गया है। फिल्म का विरोध करते हुए विश्व हिंदू परिषद ने इसे सस्ती लोकप्रियता बताया है।

ऐसे ही प्रांतीय मिडिया प्रभारी ने बताया की फिल्म जगत यानि के फिल्म निर्माता माहौल को ख़राब करने की कोशिश कर रहे हैं ,वैसे ही पद्मावती की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई की ये फिर पेट्रोल डालने पहुंच गए है,इनका कहना है की इस तरह की फिल्मो पर सेंसर बोर्ड को त्वरित ध्यान देकर ,इन पर तुरंत रोक लगनी चाहिए ,इस पर अयोध्या के संतो ने अपना मत रखते हुए कहा की इस तरह की फिल्म बनाकर देश का माहौल ख़राब करने की कोशिश की जा रही ,और षड्यंत्र रचा जा रहा है ,जो की नहीं होनी चाहिए , अत्यंत कठोर वाणी का प्रयोग करते हुए उन्होंने कहा की इस फिल्म को प्रदर्शित करने का सपना फिल्म निर्माता देखना छोड़ दें।

बहरहाल अब देखना यह बाकी है की क्या पद्मावती की ही तरह ये फिल्म भी आधे में ही अटक जाएगी या फिर ये विवाद बढ़ता चला जाएगा ,हालांकि इस तरह की फिल्मो को लेकर अब संत समाज शायद ही चुप बैठे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

My title page contents